घाटी में बुलंद होने लगी आतंक के खिलाफ आवाज, अलगाववाद के खिलाफ सड़कों पर उतरे लोग

चार दशकों से पाकिस्तान प्रायोजित हिंसा की आग से झुलस रहे कश्मीर घाटी के लोगों के सब्र का बांध टूटने लगा है। घाटी के अमन पसंद लोग हिंसक आतंकियों और अलगावादियों के खिलाफ सड़कों पर उतरने लगे हैं। विरोधी आवाज भी बुलंद होने लगी है। पिछले 15 दिनों में दूसरी बार घाटी के हजारों लोगों ने घर से बाहर निकलकर आतंकवाद और हिंसा के खिलाफ मार्च निकाला और जमकर नारेबाजी की। शनिवार को पुलवामा में आतंक के खिलाफ मार्च निकालने वाले अवामी फोरम के प्रवक्ता जीएन परवाना ने कहा कि आने वाले दिनों में पूरे कश्मीर में ऐसी और भी मार्च निकाले जाएंगे।

Powered by Blogger.